October 26, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

इटखोरी – भद्रकाली महाविद्यालय का 35 वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

इटखोरी

भद्रकाली महाविद्यालय का 35 वां स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया गया

उद्देश्यों की कसौटी पर खरा उतर रहा महाविद्यालय- डॉ प्रदीप सिंह

भद्रकाली महाविद्यालय का 35 वां स्थापना दिवस समारोह मंगलवार को धूमधाम से मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि सचिव सह प्रदेश शिक्षा संघ के अध्यक्ष डॉ प्रदीप सिंह की अध्यक्षता में शिक्षकों ने दीप प्रज्जवलित कर भू-दाता स्व डा राजेन्द्र प्रसाद, स्व यमुना देवी, स्व बद्री नारायण प्रसाद, स्व बिरेन्द्र किशोर प्रसाद, स्व सुबोध कुमार सिन्हा और स्व हरिहर प्रसाद के चित्र पर माल्यार्पण और दीप प्रज्वलन करके किया गया। इसके बाद महाविद्यालय की छात्राओं द्वारा संस्कृति कार्यक्रम का आयोजन किया गया। छात्राओं द्वारा सुंदर लोकगीत प्रस्तुत किए गये। मुख्य अतिथि डॉ प्रदीप सिंह संबोधित करते हुए भद्रकाली महाविद्यालय की उपलब्धियों को गिनाया। उन्होंने कहा कि जिस सपने के साथ इस महाविद्यालय की स्थापना की गई थी आज वह अपने उद्देश्यों की कसौटी पर खरा उतर रहा है। स्थापना के पूर्व यहां के बच्चें पचास-साठ किलोमीटर दूर जाकर शिक्षा ग्रहण किया करते थे लेकिन संस्थापक सचिव कुमार यशवंत नारायण सिंह की दूरदर्शी सोच और समाज सेवा की भावना की वजह से आज महाविद्यालय शिक्षा की अलख जगा रहा है। हर वर्ग के लोगों को मूल्यों की अवधारणा से प्रेरित गुणवत्ता परक शिक्षा प्रदान किया जा रहा है। यह पहला महाविद्यालय होगा जहां 90 प्रतिशत लड़कियां पढ़ाई करती है। उन्होंने कहा झारखंड का पहला महाविद्यालय है। जहां निशुल्क बस सेवा मुहैया कराई गई है। वहीं मुख्य अतिथि डॉ प्रदीप सिंह, प्राचार्य डॉ दुलार हजाम, संस्थापक सचिव कुमार यशवंत नारायण द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाले छात्र-छात्राओं को स्मृति चिन्ह पत्र प्रदान किया गया। अंत में महाविद्यालय के प्रबंधक और प्राचार्य ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। मंच का संचालन प्रो ललीत मोहन चौधरी ने किया। इस मौके पर भद्रकाली महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ दुलार हजाम, संस्थापक सचिव कुमार यशवंत नारायण सिंह,प्रोफेसर ललीत मोहन चौधरी एवं अभिभावकों सहित भारी संख्या में महाविद्यालय के बच्चे उपस्थित थे।

इटखोरी से महेश कुमार की रिपोर्ट