October 27, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

राँची के राजेश कला संस्कृति और कलाकारों के प्रोत्साहन के लिए करते हैं गीत संगीत निर्माण।


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

कमाई नहीं कला भाषा संस्कृति को बढ़ाने के लिए राँची के राजेश चलातें हैं आयुष फिल्म्स।
फ़िल्म पीआरओ कुमार युडी की रिपोर्ट।
राँची।शौक बड़ी चीज हैं,ऐसा आपने बहुत सुना होगा।पर आज जान भी लीजिये।पुनदाग राँची के रहने वालें राजेश कश्यप यूँ तो छोटे व्यवसायी हैं।पर झारखंड के म्यूजिक और फ़िल्म इंडस्ट्री से भी जुड़े हुए हैं।कहते हैं उन्हें गीत संगीत के वीडियो निर्माण से कोई विशेष लाभ नहीं होता हैं।पर एक शौक और जुनून हैं कि गीत संगीत कला संस्कृति को बढ़ावा मिलें।राजेश कश्यप आयुष फिल्म्स नाम से यूट्यूब चैनल चलाते हैं।लेकिन,जब सीडी कैसेट का दौर था।तब से राजेश गीत संगीत निर्माण से जुड़े हुए हैं।वर्तमान में आयुष फिल्म्स ने अपने एक लाख सब्सक्राइबर्स पूरे कर लिए हैं और इस वजह से उन्हें यूट्यूब की ओर से यूट्यूब बटन दिया गया हैं।आपको बता दें कि राजेश ने 2003 से नागपुरी एल्बम का निर्माण शुरू किया।इनका मकसद सिर्फ और सिर्फ कला संस्कृति को बढ़ाने का रहा हैं 2003 से 2012 तक सीडी कैसेट के जरिये ही गीत संगीत का निर्माण किया।जो किरण ऑडियो और प्रीत ऑडियो पर लगातार रिलीज होते रहे।जब कैसेट का दौर बंद हुआ तो 2018 में आयुष फिल्म्स यूट्यूब चैनल की शुरुआत की।राजेश ने इस बात को खुद स्वीकार किया कि इन चीजों से उन्हें कोई खास लाभ नहीं हुआ।पर खुशी हैं कि वे अपना योगदान कला संस्कृति को बढ़ाने में दे रहें हैं।राजेश अपने बैनर तले हर कलाकार को रोजगार देना चाहते हैं और यूँ ही कला जगत की सेवा में लगे रहना चाहते हैं।
फिल्मी जोहार – मैकिंग रिलीजिंग और प्रोमोशन कॉल .