October 26, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

“दुआ से दवा तक” के शिविर में मरीजो को कर रहे जागरूक


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

प्रयागराज। राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम प्रयागराज तथा डॉ. अजय कुमार मिश्रा मनोचिकित्सक परामर्शदाता मोतीलाल नेहरु मंडलीय चिकित्सालय “काल्विन” द्वारा मुनव्वर शाह बाबा मजार हिम्मत गंज प्रयागराज में एक दिवसीय मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण व उपचार हेतु दुआ से दवा तक शिविर मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण कैंप का आयोजन किया गया जिसका मुख्य उद्देश्य दुआओं के साथ-साथ दवाओं की अहमियत को समझना था साथ ही मानसिक परेशानियों के विभिन्न प्रकारों के बारे में बताना व दवाइयों द्वारा मानसिक परेशानियों का निशुल्क उपचार कराना था।
डॉ. अजय कुमार मिश्रा ने बताया कि मानसिक स्वास्थ्य परीक्षण शिविर में लगभग 200 मानसिक मरीजों का परीक्षण किया परीक्षण के दौरान तरह-तरह के मानसिक रोगी देखें जिसमे बाइपोलर मूड डिसऑर्डर, इसकी जो फ्रेनिया , एंजायटी डिसऑर्डर, सोमेटिक डिसऑर्डर आदि के मरीजो का उपचार (काउंसलिंग) किया गया जिसमे कुछ मरीज बहुत ही गंभीर स्थिति में मिले जिन्हें तुरंत उपचार तथा उनकी काउंसलिंग की गई तथा उन्हें गंभीर बीमारियों के बारे में विस्तर पूर्वक जानकारी दी गई
उन्होंने बताया कि दुआ के साथ-साथ दवा की भी आवश्यकता होती है पूरी जानकारी से मरीजों को इस तरह की बीमारी से बचाया जा सकता है मजार पर काफी दूर-दूर से मरीज आए हुए थे जैसे कि कुछ मरीज बिहार से छत्तीसगढ़ से मिर्जापुर बनारस और गाजियाबाद के मरीज वहां पर थे जिनकी मानसिक रोगों के प्रति जागरूकता करना भी आवश्यक हैं। डॉ राकेश कुमार पासवान मनोचिकित्सक ने बताया कि शिविर में भदोही, आजमगढ़, मिर्जापुर, बांदा जैसे दूर-दूर के क्षेत्रों से आए विभिन्न प्रकार के मानसिक परेशानी जैसे डिसोसिएशन, ट्रांस एंड पोजीशन बाइपोलर अफेक्टिव डिसऑर्डर आदि से ग्रस्त करीब 60 मरीजों का ऑन स्पॉट मनोचिकित्सीय उपचार किया।
डॉ ईशान्या राज नैदानिक मनोवैज्ञानिक ने करीब 35 लोगों की काउंसलिंग कर मनोवैज्ञानिक पहलुओं के बारे में, व्यक्तित्व के संगठन के दोष के बारे में व मानसिक परेशानी के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की। जय शंकर पटेल सामाजिक कार्यकर्ता ने वहां मौजूद मरीजों के सभी परिवार के लोगों को मानसिक परेशानियों के उपचार में उनके रोल की अहमियतता को बताते हुए मानसिक परेशानी हेतु जागरूक किया वहां मौजूद लीगो में पम्पलेट का वितरण किये संजय तिवारी व शैलेश कुमार ने अपना अहम योगदान दिया।