July 6, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

देश मांगता है, बदला और बलिदान नमो

बन्द करो ये क्रूर, कायर शांति गान नमो,
देश मांगता है बदला और बलिदान नमो।

रक्त रंजित पुलवामा की धरती रुदन मचाती है,
सुहागिनों की मेहंदी छुटी, खाली मां की छाती है,
कितनी राखी टूटी कलाई, तुझे नही कुछ भान नमो,
गीदड़ों ने घायल कर दिया, सिंहों का अभिमान नमो।
बन्द करो ये क्रूर, कायर शांति गान नमो,
देश मांगता है बदला और बलिदान नमो।

एक के बदले दस सिर का, तेरा वादा थोथा रे,
छाया जिसके सिर से उठ गई, चुपके चुपके रोता रे,
बूढे बाप की लाठी टूटी, दिखता नही रुदान नमो,
पैरों तले है रौंदा जा रहा, भारत का सम्मान नमो।
बन्द करो ये क्रूर, कायर शांति गान नमो,
देश मांगता है बदला और बलिदान नमो।

कूटनीति को करो खत्म, युद्धनीति दिखलाओ तुम,
पाकिस्तानी सीस काटने, शेरों को दौड़ाओ तुम,
रणचंडी को करो जाग्रत, थर्राए पाकिस्तान नमो,
पाकिस्तानी धरती पर, बस रोये गिद्ध और स्वान नमो।
बन्द करो ये क्रूर, कायर शांति गान नमो,
देश मांगता है बदला और बलिदान नमो।

वीर जवानों की धरती, हर योद्धा रक्त का प्यासा है,
बातों के भूत मानते केवल, केवल लातों की भाषा है,
देश की मिट्टी पर मिटने को, राजी हर जवान नमो,
इजरायल से हो जाओ, मिठे दुश्मन का निशान नमो।
बन्द करो ये क्रूर, कायर शांति गान नमो,
देश मांगता है बदला और बलिदान नमो।