October 29, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

इंदिरापुरम पुलिस से मुठभेड़ में 25-25 हज़ार रूपये के इनामी दो बदमाश गिरफ्तार


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

इंदिरापुरम पुलिस से मुठभेड़ में 25-25 हज़ार रूपये के इनामी दो बदमाश गिरफ्तार

गाजियाबाद। इंदिरापुरम थाना पुलिस और बदमाशों की रविवार रात मुठभेड़ हो गई। मुठभेड
में पच्चीस हजार का एक इनामी बदमाश पुलिस की गोली लगने से घायल हो गया जबकि उसका एक साथी मौके से फरार होने में कामयाब रहा था जिसे कुछ देर बाद पुलिस टीम ने गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार बदमाशों के कब्जे से लूट की नक़दी, सोने-चांदी के जेवरात मृतक का पासपोर्ट व अन्य दस्तावेज, चोरी की स्कूटी तथा अवैध असलहा बरामद किया गया है।

एसपी इंदिरापुरम केशव कुमार ने बताया कि इंदिरापुरम पुलिस टीम रविवार रात लगभग 9:15 बजे कनावनी पुलिया नहर रोड पर चेकिंग कर रही थी। तभी एक स्कूटी सवार दो संदिग्ध व्यक्ति को रोकने का इशारा किया गया। स्कूटी सवार पुलिस टीम को देखकर पुलिस टीम पर फायर कर भागने लगे पुलिस पार्टी की जवाबी फायरिंग में बदमाश सन्नी जाटव पुत्र सामंत निवासी महावीर नगर थाना भरथना जनपद इटावा हाल- कुलेसरा थाना फेज-2 नोएडा गोली लगने से घायल हो गया है व उसका साथी बदमाश मौके से फरार हो गया है। घायल बदमाश को गिरफ्तार कर इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती किया गया तथा फरार बदमाश की गिरफ्तारी के लिए इंदिरापुरम पुलिस टीम द्वारा कॉम्बिंग की गई। जिसमे फरार बदमाश आकाश पुत्र सुभाष निवासी अमीरनगर थाना तितावी जनपद मुज़फ्फरनगर को शक्तिखण्ड-4 शिव-हनुमान मंदिर के पास से लगभग 09.45 बजे गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार दोनों बदमाश थाना कविनगर के मु0अ0सं0- 1783/19 धारा 302/380/459 भादवि में वाछिंत चल रहे थे। जिनकी गिरफ्तारी पर वरिष्ठ पुलिस महोदय ने 25-25 हजार रुपये का पुरस्कार घोषित कर रखा है। गिरफ्तार बदमाशो ने 30 अगस्त को थाना कविनगर के गोविंदपुरम क्षेत्र में पंकज धवन नामक व्यक्ति की हत्या कर लूटपाट की थी। गिरफ्तार बदमाशों के कब्जे से लूट के 2 हज़ार रुपये, लूट के सोने-चांदी के जेवरात, चोरी की स्कूटी, लूट करने में प्रयुक्त सामान(पेचकस, हथौड़ा,रिंच आदि), मृतक का पासपोर्ट, पर्स व दो तमंचा 315 बोर मय चार जिन्दा कारतूस बरामद हुए है। गिरफ्तार अभियुक्तगण के विरुद्ध दिल्ली-एनसीआर में हत्या/लूट/चोरी आदि के लगभग दर्जन भर मुकदमे पंजीकृत है।