October 28, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

मंदसौर हिंदूवादी नेता युवराज सिंह चौहान की गोली मार कर हत्या


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

मंदसौर- हिंदूवादी नेता और एसआरएम केबल नेटवर्क के संचालक युवराज सिंह चौहान को अज्ञात बदमाशों ने गोली मारी” बाइक पर सवार होकर आए थे अज्ञात बदमाश, अभिनंदन नगर रेलवे अंडरपास के पास होटल पर मारी गोली, मौके पर पुलिस पहुंची युवराज सिंह चौहान को जिला चिकित्सालय भेजा गया ।

लेटेस्ट अपडेट

दशहरे के दूसरे दिन बुधवार की सुबह एक सनसनीखेज घटना में अज्ञात बदमाशों ने हिंदूवादी नेता एसआरएम केबल नेटवर्क के संचालक युवराज सिंह चौहान को गीता भवन के सामने चाय की होटल के बाहर गोली मार दी जिससे मौके पर ही उसकी दर्दनाक मौत हो गई , प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक जब युवराज सिंह बिजली का बिल भरने के लिए आए थे तभी अचानक तीन युवकों ने उन पर हमला कर दिया उन्होंने युवराज को घेर लिया और अचानक गोलियां बरसाना शुरू कर दिया, गोलियों की आवाज से लोग घबरा गए और यहां बात छुपने लगे, युवराज सिंह गोली लगते ही गिर पड़े। घटना के बाद पूरे क्षेत्र में अफरा-तफरी का माहौल बन गया, भारी मात्रा में पुलिस बल मौके पर पहुंचा, उधर घटना के बाद उपस्थित लोगों ने तत्काल चौहान को टैंपू के माध्यम से अस्पताल पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। युवराज विश्व हिंदू परिषद के पदाधिकारी थे, और उनकी हत्या क्यों की गई लोग समझ नहीं पा रहे हैं पुलिस मामले की जांच में जुटी है

बताया जाता है कि बदमाशों ने तीन गोली मारी जिससे चौहान की मौत हो गई घटना के बाद पूरा क्षेत्र पुलिस छाबनी में तब्दील हो गया, अस्पताल में भी पुलिस बल तैनात किया गया है संघ और हिंदूवादी संगठनों से जुड़े अनेक लोग अस्पताल पहुंच गए हैं। उधर घटना के बाद पुलिस अपराधियों को पकड़ने के प्रयास में जुट गई है। फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंची और प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया की गोली मारकर तीनों बदमाश गीता भवन अंडर ब्रिज से आगे भाग कर अभिनंदन की तरफ निकल गए एक गोली आगे से और 2 गोली पीछे से मारी गई, 2 लोगों के मुंह पर कपड़ा था एक का मुंह खुला था

मंदसौर में गोली चलना आम बात हो गई है आपको याद दिला दें कि इसी साल की शुरुआत में नगर पालिका अध्यक्ष प्रहलाद बनवार की हत्या और उसके कुछ महीने बाद डायमंड ज्वेलरी के संचालक अनिल सोनी की हत्या हुई थी ।अब युवराज सिंह की हत्या बीते 9 महीनों में तीन गोली मारकर हत्या हुई है।

सुबह हुई अचानक ताबड़तोड़ फायरिंग के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है तनाव की स्थिति को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है पुलिस मामले की जांच में जुटी है खबर लिखे जाने तक हत्या के पीछे पता नहीं लग सकी है