October 29, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

गोपाल भार्गव:- मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर किया पेश, कोर्ट जाऊंगा


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

भार्गव का बयान, मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर किया पेश कोर्ट जाऊंगा

अहमदनूर अगवान
भोपाल।झाबुआ विधानसभा सीट पर उपचुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया को पाकिस्तान का प्रतिनिधि बताने पर गोपाल भार्गव केखिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने पर भाजपा नेता पर झाबुआ पुलिस स्टेशन में केस दर्ज हुआ है। अपने खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा है कि उनके भाषण को तोड मरोड़ कर पेश किया गया है और वो इस मामले के खिलाफ कोर्ट जाऐंगे।
मंगलवार को अपने निवास पर पत्रकारों से बातचीत करते हुए नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने कहा कि सभा में उनके द्वारा दिए गए भाषण को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया और मेरे ऊपर एफआईआर दर्ज हुई है। उन्होंने कहा कि मैंने सभा समाप्त होने के तत्काल बाद मीडिया से स्पष्ट किया था कि मैंने पाकिस्तान के बारे में बात की है। गोपाल भार्गव ने कहा कि सभी जानते है कि पाकिस्तान आतंकवाद समर्थक देश है। वहां आतंकवाद के बीज जन्म लेते है और पूरी दुनिया में फैलते है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री राष्ट्रमंच या वैश्विक संघ में बोलते है, तो भारत के कांग्रेस नेताओं के बयान का उल्लेख करते है। उन्ही बयानों को लेकर मैंने जनता से कहा था कि किसे वोट देना चाहिए आप समझदार है, जानते है।
दिग्विजय सिंह का नाम लिए बिना गोपाल भार्गव ने निधाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस के ही कुछ नेता आरएसएस जैसे देशभक्त संगठन पर आईएसआई के लिए फंडिंग का आरोप लगाते हैं। भगवा पहनने वालों पर मंदिरों में बलात्कार होने की बात करते हैं। कांग्रेस के नेता ऐसी बातों से पाकिस्तान को आधार देते हैं।
गोपाल भार्गव ने कहा कि मेरे बयान को तोड़ मरोड़ कर पेश किया गया है। एफआईआर डाल कर मुझे दबाने की कोशिश हो रही है। यह सब कुछ सरकार के दबाव में हो रहा है, कुछ दिनों बाद आमसभा और विधानसभा में बोलने पर मनाही लगा देंगे। यह स्वतंत्रता का हनन है लेकिन गोपाल भार्गव दबने और झुकने वालों में नहीं है। भार्गव ने कहा है कि वे एफआईआर का अध्ययन कर आगे की रणनीति तैयार करेंगे।

मध्यप्रदेश के झाबुआ विधानसभा के लिये आठ उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार यहां नामाकंन फार्म भरने के अंतिम दिन 30 सितंबर तक आठ उम्मीदवारों ने अपने अपने नामाकंन फार्म रिटर्निंग अधिकारी को प्रस्तुत किये।
नामाकंन फार्म प्रस्तुत करने वालों में कांग्रेस पार्टी से कांतिलाल भूरिया, भारतीय जनता पार्टी से भानु बालू भूरिया, भारतीय सामाजिक पार्टी से जालमसिंह पटेल, निर्दलिय कल्याण सिंह डामोर, निर्दलिय रामेश्वर सिंगार, निर्दलीय जोसफ रामसिंग, निर्दलीय निलेश डामोर, यूनाईटेड नेशनल पार्टी से संजय डामोर ने फार्म भरे है। इस प्रकार से झाबुआ विधानसभा उप चुनाव में कुल आठ उम्मीदवार चुनाव मैदान में है। वास्तविक स्थिति 3 तारीख को नाम वापसी के बाद स्पष्ट हो सकेगी।