October 28, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

भूटान में भारतीय सेना का चीता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलटों की मौत


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

भारतीय सेना का एक हेलीकॉप्टर भूटान में दुर्घटनाग्रस्त हो गया है जिसमें आर्मी के दोनों पायलटों की मौत हो गई है।

Breaking News

तस्वीर साभार: ANI चीता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त

मुख्य बातें

  • आर्मी का चीता हेलीकॉप्टर भूटान में दुर्घटनाग्रस्त, दो पायलटों की मौत
  • एक पायल लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक का है वहीं दूसरा पायलट भूटान की आर्मी का था
  • हेलीकॉप्टर ने अरुणाचल प्रदेश के खिर्मू से भूटान के योंफुला की उड़ान भरी थी

नई दिल्ली: भूटान में भारतीय सेना का एक चीता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया है जिसमें सवार दोनों पायलटों की मौत हो गई है। भारतीय सेना के सूत्रों की मानें तो दुर्घटना में मरने वाले भारतीय सेना का एक पायलट लेफ्टिनेंट कर्नल रैंक का था, जबकि दूसरा भूटान की आर्मी का पायलट था जो भारतीय सेना के साथ प्रशिक्षण पर था। यह  हेलीकॉप्टर अरुणाचल प्रदेश के खिर्मू से भूटान के योंफुला तक की उड़ान पर पर गया था। 

इसी साल जून में अरुणाचल प्रदेश में एएन-32 विमान क्रैश हो गया था जिसमें सवार सभी 13 लोगों की मौत हो चुकी थी। विमान के दुर्घटनाग्रस्‍त होने के 10 दिन बाद इसका मलबा बरामद किया गया था।
 

यह पहली बार नहीं है जब सेना का चीता हेलीकॉप्टर क्रैश हुआ हो। नवंबर 2016 में भी पश्चिम बंगाल के सुकना सैन्य शिविर में चीता हेलीकॉप्टर के क्रैश हो जाने की वजह से सेना के तीन अधिकारियों की मौत हो गई थी और एक जूनियर कमीशन अधिकारी गंभीर रूप से घायल हो गया था।  यह हेलीकॉप्टर अफने नियमित मिशन पर था लेकिन सिलिगुड़ी के नजदीक सुकना में लौटते समय यह दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। 

अक्टूबर 2014 में उत्तर प्रदेश के बरेली बेस के निकट भी एक चीता हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होकर गिर गया था जिसमें सवार दो पायलट और एक इंजीनियर की मौत हो गई थी। आपको बता दें कि इससे पहले बुधवार को भारतीय वायु सेना का एक मिग 21 विमान ग्वालियर हवाई अड्डे के पास क्रैश हो गया था, हालांकि इसमें दोनों पायलट सुरक्षित बाहर निकलने में सफल रहे थे।  

साभार ANI