June 6, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

प्रयागराज – प्रवासी मजदूरों से ट्रक चालक किराए के नाम पर दो से ₹3000 प्रति व्यक्ति किराया वसूला जाता है

*प्रवासी मजदूरों से ट्रक चालक किराए के नाम पर दो से ₹3000 प्रति व्यक्ति किराया वसूला जाता है*

कोरोना वायरस के कारण जहां लाँक टाउन पूरे देश में लगाया गया है |

तो वही लाँक डाउन लगने के बाद से रोजगार न मिलने की वजह से प्रवासी मजदूरों का वहां से पलायन तेजी के साथ शुरू हो गया |

लेकिन इन प्रवासी मजदूरों के पलायन व बेबसी का फायदा ट्रक चालकों ने अपनी कमाई का जरिया बना लिया और अपने घरों को लौट रहे प्रवासी मजदूरों से किराए के रूप में हजारों रुपए वसूल रहे हैं |

अगर देखा जाए तो महाराष्ट्र व आंध्र प्रदेश के साथ-साथ अन्य राज्यों से आने वाली ट्रकों में खाद्य सामग्री की जगह प्रवासी मजदूरों को भर कर के लाया जा रहा है |

जबकि इन ट्रकों को तिरपाल से ढक कर के उसके अंदर प्रवासी मजदूरों को बैठाकर के उन से मनमाना किराया वसूलते हुए उनके गंतव्य स्थानों तक पहुंचाने का आश्वासन यह ट्रक चालक दे रहे हैं |

वही इस काम में मध्य प्रदेश शासन के द्वारा भी पैदल आ रहे प्रवासी मजदूरों को ट्रकों में ठूंस ठूंस कर भरा जा रहा है |
वही यह ट्रक चालक इन प्रवासी मजदूरों से किराए के नाम पर 2 से 3000 रूपये प्रति व्यक्ति किराया वसूल रहे हैं |

*प्रयागराज क्राइम रिपोर्टर रविंद्र श्रीवास्तव बीबीसी लाइव*