October 28, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

यशवंत सिन्‍हा का मोदी सरकार पर बड़ा आरोप, कहा किसी आतंकी की तरह हुआ बर्ताव


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्‍हा को पिछले दिनों श्रीनगर एयरपोर्ट से जम्‍मू कश्‍मीर प्रशासन से वापस जाने को कह दिया। मंगलवार को हुई इस घटना से यशवंत सिन्‍हा काफी गुस्‍से में हैं। उनका कहना है कि उनके साथ जो बर्ताव हुआ है वह बिल्‍कुल वैसा ही है जैसा किसी आतंकी या फिर हाइजैकर कि साथ होता है।

आपको बता दें कि यशंवत सिन्‍हा, पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री रह चुके हैं। मंगलवार को जम्‍मू कश्‍मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद पहली बार श्रीनगर पहुंचे थे और यहां से उन्‍हें वापस चले जाने को कह दिया गया था। यशवंत सिन्‍हा ने इंडियन एक्‍सप्रेस के साथ बातचीत में अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया है।

यशवंत सिन्‍हा ने बताया, ‘मैं कनसंर्ड सिटीजंस नामक संगठन से जुड़ा हूं और मैं अपने कुछ दोस्‍तों से मिलने के लिए गया था। 17 सितंबर को हमारे ग्रुप का एक कार्यक्रम था। मेरे साथ चार और लोग श्रीनगर एयरपोर्ट पहुंचे थे। मुझे वहां पर एक सज्‍जन मिले और उन्‍होंने अपना परिचय बडगाम के डिप्‍टी कमिश्‍नर के तौर पर दिया।

इसके बाद जब मैं लाउंज में बैठा तो मुझे रोक लिया गया लेकिन बाकी लोगों को जाने के लिए कह दिया गया।’ यशवंत सिन्‍हा ने साल 2018 में बीजेपी को अलविदा कह दिया था। वह पिछले कुछ समय से मोदी सरकार के सबसे बड़े आलोचकों में शामिल हो गए हैं।

सिन्‍हा ने आगे कहा कि जब उन्‍होंने रोकने के लिए वजहें लिखित में मांगी तो दो घंटे के बाद उन्‍हें एक ऑर्डर लाकर दे दिया गया। इस ऑर्डर में लिखा था कि अगर सिन्‍हा आगे जाते हैं तो शांति भंग होगी। इस पर यशवंत सिन्‍हा ने जवाब दिया कि वह तो बडगाम में भी नहीं रहेंगे और वह श्रीनगर जा रहे हैं। इस पर डिप्‍टी कमिश्‍नर नहीं माने और ढाई घंटे के बाद उन्‍हें एसपी का एक लिखित आदेश दिया गया और वापस जाने के लिए कह दिया गया। यशवंत सिन्‍हा की पुलिस से काफी बहस हुई और उन्‍होंने कहा कि वह गलत ऑर्डर दे रहे हैं।