October 31, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

असम में तीन बहनों के साथ पुलिस की बर्बरता, कपड़े उतारे, प्राइवेट पार्ट को छुआ, लाठी से पीटा


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

एक बार फिर से पुलिस का बर्बर चेहरा सामने आया है। असम में तीन बहनों के साथ पुलिस हिरासत में मारपीट करने और उनके साथ यौन शोषण का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार इन बहनों के कपड़े पुलिस कस्टडी में उतरवाए गए और उन्हें लाठी से पीटा गया। यह मामला असम के दारंग जिले का है। दरअसल इन महिलाओं के मुस्लिम भाई के खिलाफ हिंदू महिला को जबरन अपने पास बंधक बनाने का मामला दर्ज किया गया था, जिसके बाद पुलिस ने इन तीनों बहनो को गिरफ्तार किया था।

असम के डीजीपी कुलधर सैकिया ने बताया कि थाने पर तैनात सब इंस्पेक्टर महेंद्र शर्मा और महिला कॉस्टेबल बिनीता बोरो को सस्पेंड कर दिया गया है। उनके किलाफ मंगलवार को आपराधिक मामला दर्ज कर लिया गया है। इसके साथ ही इस पूरे मामले की एक हफ्ते के भीतर जांच रिपोर्ट पेश करने का निर्देश दिया गया है। 10 सितंबर को तीनों में से एक बहन ने अपनी लिखित शिकायत में कहा था कि पुलिस ने उन्हें नंगा किया, हमारे साथ यौन शोषण किया, हमारे निजी अंगो को छुआ।

तीनों बहनों की उम्र 28, 30, 18 वर्ष है, जिन्हें 9 सितंबर को रात 1.30 बजे उनके घर से पुलिस ने कस्टडी में लिया था। पुलिस का दावा है कि महिला से पूछताछ के लिए उन्हें हिरासत में लिया गया था क्योंकि यह केस उनके भाई के खिलाफ हिंदू महिला को बंधक बनाने का था।

जिस महिला ने शिकायत दर्ज कराई उसने बताया कि हम अपने भाई से संपर्क नहीं कर सके हैं। इसके बाद उनका भाई पुलिस स्टेशन पहुंचा और उसने पूछा कि मेरी वजह से मेरी बहनों के साथ क्यों मारपीट की गई, इसपर पुलिस ने उसे भी पीटा। महिला ने बताया कि उनका भाई और महिला दोनों का अफेयर है।