October 26, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

स्पा ऐंड मसाज सेंटर्स के नाम पर गोरखधंधा, ऐसे दी जा रहीं ‘एक्सट्रा सर्विस’


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

स्पा ऐंड मसाज सेंटर्स के नाम पर गोरखधंधा, ऐसे दी जा रहीं ‘एक्सट्रा सर्विस’

पिछले दिनों जब खबरें आईं कि इनके सेंटरों पर पुलिस के छापे पड़े हैं, ऐसे में BBC LIVE NEWS ने इसकी पड़ताल की। अपनी पड़ताल के पहले हिस्से में हम पूर्वी दिल्ली CROSS RIVER MALL के एक स्पा में गए। वहां हमने स्पा व मसाज के बारे में जानकारी मांगी।

navbharat-times

सांकेतिक तस्वीर  

हाइलाइट्स:

  • स्पा सेंटर की आड़ में सेक्स रैकेट चलने की खबरें आती रहती हैं
  • पिछले हफ्ते नोएडा, ग्रेटर नोएडा में 14 जगह छापे मारे गए
  • क्या मसाज पार्लर में अभी भी ऐसा गोरखधंधा होता है, इसकी हमने पड़ताल की
  • मसाज पार्लर्स में हमें ज्यादा पैसे देकर एक्सट्रा सर्विस का ऑफर मिला

राकेश गुप्ता , नई दिल्ली
स्पा और मसाज बेहद सम्मानजनक प्रफेशन है, लेकिन पिछले दिनों जब खबरें आईं कि इनके सेंटरों पर पुलिस के छापे पड़े हैं, तो BBC LIVE NEWS ने सोचा कि क्यों न इनकी पड़ताल की जाए। अपनी इस खोजी स्टोरी के लिए हम दिल्ली के कई स्पा और मसाज सेंटरों में गए। इस स्टोरी में हम स्पा इंडस्ट्री पर सवाल नहीं खड़े कर रहे हैं, लेकिन इनकी आड़ में जो गोरखधंधा कर रहे हैं, कहीं यह इस इंडस्ट्री को बदनाम करने की कोशिश तो नहीं है। इस सीरीज में हमने यही पड़ताल की। अपनी पड़ताल के पहले हिस्से में हम पूर्वी दिल्ली के एक स्पा में गए। वहां हमने स्पा व मसाज के बारे में जानकारी मांगी:

  • रिपोर्टरः (रिसेप्शन पर) सर, मसाज का क्या रेट है?
  • रिसेप्शन बॉयः एक घंटे के नॉर्मल मसाज का रेट 800 रुपये है।
  • रिपोर्टरः एक्स्ट्रा सर्विसेज भी मिल जाती हैं क्या…?
  • रिसेप्शन बॉयः हां, सर्विसेज मिल जाएंगी।
  • रिपोर्टरः क्या -क्या होगा इन सर्विसेज में?
  • रिसेप्शन बॉयः उसके बारे में अंदर बात करिएगा।
  • रिपोर्टरः फीमेल स्टाफ कैसा होगा आपका?
  • रिसेप्शन बॉयः सब तरह की हैं, विदेशी भी हैं। अगर आप स्पा लेते हैं, तो आपको स्टाफ से मिलवा देंगे। उनमें से चुन लेना।

स्पा लेने वाले बताते हैं कि रिसेप्शन पर इस बारे में खुलकर बात नहीं होती है, बल्कि इसे एक्स्ट्रा सर्विसेज कहा जाता है। जब हमने कहा कि हमारे पास 800 रुपये नहीं हैं, तो हमें 600 रुपये में स्पा करवाने को कहा गया। इसके बाद हम दूसरे स्पा सेंटर गए, तो वहां भी यही दाम बताया गया।

साउथ दिल्ली के स्पा में सर्विस लेने वाले एक शख्स ने हमें बताया, ‘अंदर कस्टमर को रेग्युलर बनाने के लिए हर तरह का लालच दिया जाता है, लेकिन रिसेप्शन पर साफ शब्दों में बात नहीं होती। अंदर मसाज के दौरान आपको तमाम ऑफर दिए जाते हैं, जिनके रेट अलग-अलग होते हैं। इसमें आप मोलभाव भी कर सकते हैं।

उस शख्स ने बताया, ‘उन्होंने मुझे 3000 रुपये ‘फुल’ एक्स्ट्रा सर्विस के बताए थे। लेकिन जब मैंने कहा कि इतना बजट नहीं है, तो उन्होंने पहले 2500 में सर्विस के लिए कहा और फिर 1800 तक भी आए। उन्होंने मुझे बॉडी टु बॉडी मसाज जैसी कई अलग-अलग तरह की सर्विसेज बताईं, जिनके बारे में हम खुलकर नहीं बता सकते। उनके दाम भी अलग-अलग थे। मसाज करने वाली लड़की का कहना था ‘आप सर्विस ले लेंगे, तो हमारी कमाई हो जाएगी।’ द्वारका के एक मसाज पार्लर पर जब फोन किया, तो उन्होंने बताया, ‘1500 रुपये में आपको मसाज और सर्विसेज दोनों मिल जाएंगी।’

छोटे-छोटे और गंदे कमरे
इन सेंटर्स पर आपको फुल इंजॉयमेंट की गारंटी भी दी जाती है। एक स्पा सेंटर में जब हमने कहा कि हम वह रूम देखना चाहते हैं, जहां हमें सर्विस मिलेगी, तो हमें वह कमरे दिखाने ले जाया गया। पतली सी गैलरी के दोनों और 3-3 कमरे थे। गैलरी में घुसते ही दाएं हाथ की ओर पहले कमरे में लड़कियां बैठकर बात कर रही थीं। फिर अगला कमरा दिखाया गया। यह बेहद ही छोटा कमरा था, जिसमें कोने में शॉवर के लिए जगह रखी गई थी। साथ ही एक मसाज टेबल और एक कुर्सी थी। हमने जब कहा कि कमरा तो गंदा है, तो उन्होंने हमें दूसरा कमरा दिखाया, जो कुछ-कुछ इसी तरह का था। एक अन्य स्पा में हमने जब कमरा देखने की बात की, तो उन्होंने बताया कि अभी तो रूम बिजी हैं।

मसाज को हां करने पर ही दिखाई जाएंगी लड़कियां
एक स्पा-मसाज सेंटर में फोन करके जब हमने पूछा, ‘आपके यहां गर्ल स्टाफ कैसा है?’ तो उन्होंने बताया, ‘हमारे यहां बड़ी उम्र का स्टाफ भी है और थोड़ी छोटी उम्र का भी। आप आएंगे, तो हम आपको लड़कियां दिखा देंगे।’ मसाज ले चुके एक कस्टमर के मुताबिक, जब आप मसाज करवाने के लिए हां कहेंगे, तो लड़कियां दिखाई जाती हैं। वह एक-एक करके आती हैं और खुद को इंट्रोड्यूस करती हैं। उनमें से आप किसी को भी चुन सकते हैं।’

‘घर पर नहीं बताया कि मैं स्पा में काम करती हूं’

स्पा सेंटर में यूं तो कई काबिल लड़कियां काम करती हैं, लेकिन पिछले दिनों सामने आए कुछ मामलों की वजह से अब यहां काम करने वाली लड़कियां भी अपने घर पर यह बताने से हिचकिचाती हैं कि वे स्पा-मसाज सेंटर में काम करती हैं। स्पा सेंटर में काम करने वाली एक लड़की बताती है, ‘रोज न जाने कितने कस्टमर्स आते हैं। कुछ तो ‘एक्स्ट्रा सर्विसेज’ भी मांगते हैं। लेकिन मैं बस यहाँ काम करने आई थी, क्योंकि घर की जरूरतें थीं। मैं जब 8वीं क्लास में थी, तो पापा चल बसे। मां गांव की हैं, तो उन्हें यहां कौन काम देता। परिवार की जिम्मेदारी मेरे कंधों पर आई, तो काम ढूंढने निकली, लेकिन कहीं जॉब नहीं मिली। किसी के रेफरेंस से यहां पहुंची। जब पहली मसाज दे रही थी, तब ही कस्टमर ने पूछा ‘ऐक्स्ट्रा सर्विस का क्या चार्ज है।’

पहले तो समझ नहीं आया, लेकिन जब साथ की लड़कियों से पूछा, तो पता लगा कि ये तो सेक्स सर्विसेज की बात हो रही है। हालांकि मेरे घरवालों और रिश्तेदारों को नहीं पता है कि मैं स्पा सेंटर में काम करती हूं। उनको तो मैंने यही बताया है कि मैं मल्टिनेशनल कंपनी में कंप्यूटर ऑपरेटर हूं।’

क्या है नया नियम

दिल्ली के SPA मसाज सेंटर में अब युवतियां नहीं करेंगी पुरुष की मसाज

दिल्ली महिला आयोग द्वारा पिछले सप्ताह स्पा सेंटरों में की गई छापेमारी के बाद दक्षिणी दिल्ली नगर निगम ने बड़ा कदम उठाया है। निगम ने साफ कर दिया है कि अब किसी भी स्पा सेंटर में महिलाएं पुरुष की व पुरुष महिलाओं की मसाज नहीं करेंगे। दक्षिणी दिल्ली नगर निगम की स्थायी समिति में यह फैसला हुआ। वहीं, 78 ऐसे स्पा सेंटर की सूची भी तैयार कर ली गई है जो बिना लाइसेंस से चल रहे हैं। निगम अब इन पर सीलिंग की कार्रवाई करेगा।

नेता सदन कमलजीत सहरावत ने कहा कि अगर, स्पा सेंटरों में गलत कार्यो की बात सामने आ रही हैं, इसलिए यह निर्णय लिया गया। इसके लिए स्पा सेंटर की पॉलिसी में बदलाव कर इसकी एडवाइजरी भी जारी कर दी जाएगी। इस पॉलिसी में यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि स्पा सेंटरों के रिसेप्शन पर सीसीटीवी कैमरे हो।

उल्लेखनीय है कि दक्षिणी दिल्ली नगर निगम इलाके में 297 स्पा सेटर चल रहे हैं। इसके पहले 66 स्पा/मसाज सेंटर को नोटिस देकर सील भी कर दिया गया है। वहीं निगम की इस कार्रवाई का दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालिवाल ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि निगम ने हमारी कार्रवाई के बाद यह फैसला लिया है।