November 1, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

जागो’ पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को दिया समर्थन


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

‘जागो’ पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में भाजपा को दिया समर्थन

सिख मसलों पर मोदी सरकार की पिछली कारगुजारी तथा लटकते सिख मसलों को हल करने का वायदा बना समर्थन का कारण

नई दिल्ली 29 जनवरी (मनप्रीत सिंह खालसा):- ‘जागो’ पार्टी दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी का समर्थन करेंगी। आज जागो-जग आसरा गुरु ओट(जत्थेदार संतोख सिंह) पार्टी के पदाधिकारियों की दिल्ली विधानसभा चुनाव के हालातों पर विचार करने के लिए दिल्ली में विशेष बैठक हुई। बैठक में पार्टी की राजनीतिक मामलों की समिति,कौर ब्रिगेड,यूथ विंग तथा स्टूडेंटस विंग के पदाधिकारी शामिल हुए। बैठक में सिख पंथ के अहम मसलों को हल करवाने का भारतीय जनता पार्टी से भरोसा लेने की शर्त पर भाजपा उम्मीदवारों का समर्थन करने का प्रस्ताव पारित किया गया। साथ ही अफगानी सिखों को नागरिकता देने,1984 सिख कत्लेआम के दोषियों को सजा दिलवाने के लिए एसआईटी का गठन करने, करतारपुर काॅरिडोर खोलने,काली सूची में शामिल सिखों के नाम लगभग हटाने तथा उन्हें भारत आने का वीजा देने के लिए नरेंद्र मोदी सरकार का धन्यवाद किया गया। इस मौके दिल्ली कमेटी के पूर्व सदस्य मंगल सिंह जागो पार्टी में शामिल हुए। पार्टी अध्यक्ष मनजीत सिंह जीके ने मंगल सिंह को सिरोपा देकर पार्टी में स्वागत किया।

जीके ने पदाधिकारियों ने बताया कि कल उनकी भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के साथ मुलाकात हुई थी। जिसमें दिल्ली चुनाव में भाजपा को समर्थन देने पर चर्चा हुई थी। मैंने मोदी सरकार द्वारा पिछले 6 सालों के दौरान किए गए कार्यों पर संतुष्टि जताई थी। साथ ही लटकते सिख मसलों को हल करने की बात भी हुई थी। जीके के संबोधन के बाद पार्टी नेताओं ने इस संबंधी फैसला लेने का अधिकार जीके को दे दिया। जिसके बाद सरकार से लंबित मामलों को हल करवाने का मसौदा पार्टी के महासचिव व मुख्य प्रवक्ता परमिंदर पाल सिंह ने पढ़ा। जिस पर बैठक में शामिल सभी सदस्यों ने जयकारों की गूँज में प्रस्तावों के पारित होने की सहमति दी। जीके ने प्रस्तावों के पारित होने के बाद साफ कहा कि अकाली दल सरकार से अपने तथा परिवारों के लिए राहत माँगने जाता है। पर हम कौम के मामलों को हल करवाने के बदले समर्थन दे रहें है। ‘जागो’ धार्मिक पार्टी है, हमारा सियासत से कोई वास्ता नहीं है। पर कौम के कामों को हल करवाने के लिए सियासी पार्टीयों से सहयोग लेना जरूरी है।

जीके की अध्यक्षता में हुई बैठक में पारित प्रस्तावों में केंद्र सरकार से की गई मुख्य माँगे: 2021 में गुरु तेग बहादर साहिब के आ रहें 400वें प्रकाश पर्व को समर्पित दिल्ली में गुरु तेग बहादर साहिब के नाम पर मेडिकल काॅलेज स्थापित किया जाए। साथ ही गुरु साहिब के शहीदी दिवस पर राजकीय अवकाश घोषित किया जाए।पंजाबी भाषा में सिविल परीक्षा पास करने के इच्छुक पंजाबीयों के लिए दिल्ली में भारत सरकार के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्रालय के अधीन सिविल एग्जाम ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट फाॅर पंजाबी लैंगवेज स्थापित किया जाए। मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट अन्य 11 भारतीय भाषाओं की तरह पंजाबी भाषा में एनटीए आयोजित करें।
सिख गुरुओं तथा चारों साहिबजादों का इतिहास सीबीएसई स्कूल सिलेबस का हिस्सा बनाया जाए। गुरु नानक देव जी की पवित्र चरण छोह प्राप्त गुरुद्वारा डांगमार साहिब तथा गुरुद्वारा ज्ञान गोदड़ी साहिब की पुनः स्थापना के लिए भारत सरकार का सांस्कृतिक मंत्रालय दखल दें। हम दोनों गुरदवारों से संबंधित इतिहास उपलब्ध करवाएँगे।

जीके द्वारा 1984 सिख कत्लेआम के आरोपी जगदीश टाईटलर के जारी किए गए वीडियो स्टिंग मामले में दिल्ली पुलिस टाईटलर के खिलाफ एफआईआर दर्ज करके टाईटलर को गिरफ्तार करें। लालकिला पर रोजाना होने वाले लाइट एंड साउंड़ शो में सिखों के द्वारा 1783 में की गई दिल्ली फतेह का इतिहास शामिल किया जाए। दिल्ली स्थित नगर निगम के सभी प्राइमरी स्कूलों में पंजाबी भाषा की 2 साल तक अनिवार्य पढ़ाई करवाई जाए।इसके साथ ही दिल्ली मे भाजपा की सरकार बनने पर हल किए जाने वाले मुद्दों में दिल्ली के सभी 1023 सरकारी स्कूलों में पंजाबी टीचर लगाए जाए।1984 के पीड़ितों के फ्लैटों की मुरम्मत तथा मालिकाना हक दिया जाए।संसद द्वारा दिए गए भरोसे को पुरा करते हुए 1984 के पीड़ित परिवारों के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए।