October 27, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

पाकिस्तान में हिन्दू लड़की को विवाह के मंडप से उठाया, जबरन धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम लड़के से करवाया निकाहः मनजिंदर सिंह सिरसा


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71

पाकिस्तान में हिन्दू लड़की को विवाह के मंडप से उठाया, जबरन धर्म परिवर्तन कर मुस्लिम लड़के से करवाया निकाहः मनजिंदर सिंह सिरसा
इमरान खान अल्पसंख्यकों पर होने वाले जुल्म पर अपनी चुप्पी तोड़ेंः सिरसा

नई दिल्ली, 27 जनवरी (मनप्रीत सिंह खालसा):- दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रंबधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि पाकिस्तान के सिंध सूबे में हाला शहर में एक हिन्दू लड़की को विवाह के मंडप से उठा लिया गया, उसका धर्म परिवर्तन किया गया व फिर मुस्लिम लड़के से विवाह करवा दिया गया।
यहां जारी किये एक बयान में श्री सिरसा ने बताया कि भारती बाई नाम की इस लड़की का विवाह हो रहा था जब शाहरुख गुल नाम का व्यक्ति पुलिस को लेकर वहां पहुंचा व दावा किया कि एक एक महीने पहले इस लड़की ने इस्लाम कबूल कर लिया था व अब हिन्दू रीति-रिवाजों के अनुसार इसका विवाह नहीं हो सकता। यहां पुलिस उस लड़की को गिरफ्तार कर ले गई व बाद में इसका निकाह शारुख गुल से करवा दिया गया।
श्री सिरसा ने बताया कि लड़की को अगवा कर लेजाने, धर्म परिवर्तन करने व मुस्लिम लड़के से निकाह करवाने में पुलिस ने सरगर्म भूमिका अदा की है। अल्पसंख्यकों की बेटियों की रक्षा कैसे हो सकती हे जब स्वंय सरकार के आदेशों पर पुलिस इन्हें अगवा करने में मदद कर रही है व अगवाकारों को पूरी सुरक्षा दी जा रही है।
दिल्ली कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि इमरान खान यह दावा करते थे कि पाकिस्तान को रियासत-ए-मदीना बनाना है। क्या यह वही रियासत-ए-मदीना है जहां अल्पसंख्यकों पर जुल्म हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि जो लड़कियां अगवा की गई हैं, वह सभी 14 से 20 वर्ष की लड़कियां हैं। यह लड़कियां मुस्लिम लड़कों की पत्नी ही क्यांे बनती हैं? कोई किसी की बहन क्यों नहीं बनती कोई पुरुष धर्म परिवर्तन कयों नहीं करता, कोई 50 वर्ष की महिला क्यांे धर्म परिवर्तन नहीं करती।
उन्होंने कहा कि जब तक संयुक्त राष्ट्र इस मामले में दखल नहीं देता व पाकिस्तान को चेतावनी दे कर कार्रवाई नहीं की जाती, तब तक पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर जुल्म और अत्याचार बंद नहीं हो सकता।