November 1, 2020

BBC LIVE NEWS

सच सड़क से संसद तक

कोयला घोटाले से जुड़े एक मामले में सभी आरोपियों को साक्ष्यों के अभाव में कोर्ट ने किया बरी


Notice: Trying to get property of non-object in /home/innpicom/public_html/wp-content/themes/newsium/inc/hooks/hook-single-header.php on line 71
पटियाला हाउस की विशेष अदालत ने बजरंग इस्पात प्राइवेट लिमिटेड, इसके निदेशक रमेश कुमार अग्रवाल...

पटियाला हाउस की विशेष अदालत ने बजरंग इस्पात प्राइवेट लिमिटेड, इसके निदेशक रमेश कुमार अग्रवाल और अनिल
जैन को साक्ष्यों के अभाव में बरी कर दिया है। कोयला घोटाले से जुड़े एक मामले में इन सभी को आरोपित बनाया गया था। इस पर शनिवार को अदालत ने फैसला सुनाया।

2006 में झारखंड के विभिन्न क्षेत्रों में कोयला खंड का आवंटन किया गया था। वहीं, बाद में इस आवंटन में कई खामियां पाई गई और कई कंपनियों, नेताओं और अधिकारियों पर केस दर्ज हुनहीं थे। ऐसा ही एक मामला झारखंड के डुमरी क्षेत्र में कोयला खंड आवंटन का था। इसमें बजरंग इस्पात और इसके मालिकों के खिलाफ धोखाधड़ी और साजिश रचने की धाराओं में केस दर्ज किया गया था।

पटियाला हाउस की विशेष अदालत में चली सुनवाई के दौरान आरोपितों पर धोखाधड़ी और साजिश रचने के आरोप साबित नहीं हो सके।

 

साभार जागरण हिंदी